'अनार उत्पादन प्रौद्योगिकी' पर आभासी प्रशिक्षण कार्यक्रम का हुआ आयोजन

21 अप्रैल, 2021, परभणी

डॉ. अशोक धवन, कुलपति, वसंतराव नाइक मराठवाड़ा कृषि विद्यापीठ, परभणी, महाराष्ट्र ने आज भाकृअनुप-कृषि प्रौद्योगिकी अनुप्रयोग अनुसंधान संस्थान, पुणे, महाराष्ट्र द्वारा ‘अनार उत्पादन प्रौद्योगिकी’ पर आयोजित तीन दिवसीय आभासी प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

भाकृअनुप-राष्ट्रीय अनार अनुसंधान केंद्र, सोलापुर, महाराष्ट्र के सहयोग से यह कार्यक्रम 21 से 23 अप्रैल, 2021 तक आयोजित किया गया।

Virtual Training Programme on “Pomegranate Production Technology” organized

डॉ. धवन ने अपने उद्घाटन संबोधन में अनार के अधिक उत्पादन के लिए अनार उत्पादकों को गुणवत्ता वाले रोपण सामग्री प्रदान करने के महत्व को उजागर किया। उन्होंने नर्सरी विकसित करने के लिए प्रतिभागियों और अन्य कृषि संस्थानों से आग्रह किया ताकि वे किसानों को गुणवत्ता वाले रोपण सामग्री प्रदान कर सकें।

डॉ. लाखन सिंह, निदेशक, भाकृअनुप-अटारी, पुणे, महाराष्ट्र ने अनार के प्रसंस्करण और मूल्यवर्धन के महत्त्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने किसानों की आय दोगुनी करने की दृष्टि को साकार करने के लिए अनार की वैज्ञानिक खेती को अपनाने की बात कही।

डॉ. ज्योत्सना शर्मा, निदेशक, भाकृअनुप-राष्ट्रीय अनार अनुसंधान केंद्र, सोलापुर, महाराष्ट्र ने अनार की विभिन्न तकनीकों को रेखांकित किया। उन्होंने अनार की फसलों में एकीकृत रोग प्रबंधन पर किसानों का मार्गदर्शन किया।

(स्रोत: भाकृअनुप-कृषि प्रौद्योगिकी अनुप्रयोग अनुसंधान संस्थान, पुणे, महाराष्ट्र)